Bitcoin का मालिक कौन है? जाने बिटकॉइन किस देश की करेंसी है

वर्तमान समय में, आप लोगों ने Bitcoin का नाम अवश्य सुना होगा। चलिए आज जान ही लेते हैं Bitcoin का मालिक कौन हैBitcoin Ka Malik Kaun Hai. दुनिया में बिटकॉइन सबसे महंगी cryptocurrency है। जैसा कि आप जानते हैं, हर देश अपनी अपनी करेंसी में विदेशी माल निर्यात करता है। लेकिन बिटकॉइन को न तो देख सकते हैं न छू सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

बिटकॉइन का मालिक वास्तव में एक व्यक्ति नहीं है; यह एक डिस्ट्रीब्यूटेड नेटवर्क है जिसमें कई लोग शामिल हैं और इसे संचालित करते हैं। ब्लॉकचेन तकनीक से इस नेटवर्क को सुरक्षित और विशिष्ट तरीके से चलाया जाता है।

बिटकॉइन, जिसमें क्रिप्टोग्राफी तकनीक का उपयोग किया जाता है, इस नए डिजिटल युग में एक अजीब कंप्यूटर प्रोटोकॉल (Computer Protocol) है, जो सिक्योरिटी (Security) और ट्रांजैक्शन (Transaction) की सुरक्षा करता है।

इस मुद्रा को कई देशों में खरीद या बेच सकते हैं। क्या आप जानते हैं कि बिटकॉइन क्या है और बिटकॉइन का मालिक कौन है (Bitcoin Ka Malik Kaun Hai), यह किस देश की मुद्रा है और भारत में बिटकॉइन लीगल है? मैं आपसे अनुरोध करूंगा कि इस लेख को अंत तक पढ़ें अगर आप उन सवालों के जवाब जानना चाहते हैं।

Table of Contents

बिटकॉइन क्या है – Bitcoin का मालिक कौन है ?

Bitcoin, या बिटकॉइन, एक प्रकार का डिजिटल मुद्रा है जिसका कोई भौतिक स्वरूप नहीं है। इसका अस्तित्व सिर्फ डिजिटल है; आप इसे न छू सकते हैं और न देख सकते हैं। आज दुनिया में उपलब्ध सभी क्रिप्टोकरेंसी में सबसे महंगा बिटकॉइन है।

आप बिटकॉइन का उपयोग करके कई चीजें खरीद सकते हैं। अधिकांश देशों में बिटकॉइन को मुद्रा के तौर पर स्वीकार किया जाता है, हालांकि कुछ देशों में इसका इस्तेमाल कानूनी रूप से प्रतिबंधित है।

डिजिटल वायलेट बिटकॉइन की तरह है। Bitcoin Wallet , जिसमें बिटकॉइन की वैल्यू डिजिटल अंकों के तौर पर अंकित होती है, पेटीएम वॉलेट की तरह है, जिसमें आपके पैसे रहते हैं और उनसे आप कुछ भी खरीद सकते हैं। मुख्य बात यह है कि बिटकॉइन की कीमत हमेशा स्थिर नहीं रहती; कभी भी इसकी कीमत गिर सकती है या बढ़ सकती है।

Bitcoin Ka Malik Kaun Hai – Bitcoin का मालिक कौन है ?

Satoshi Nakamoto, बिटकॉइन का मालिक, 5 अप्रैल 1975 को जापान में पैदा हुआ था। जब इन्होने बिटकॉइन बनाया था, 2009 में तब इसकी कीमत सबसे कम थी, लेकिन जैसे-जैसे बड़े-बड़े लोगों ने इसमें निवेश करना शुरू किया, उसके बाद ही इसकी कीमत बहुत तेजी से बढ़ गई है।

वर्तमान में, ये दुनिया का सबसे महंगा क्रिप्टोकरेंसी है और हर व्यक्ति को इसे खरीदना असंभव है। बिटकॉइन मालिक को बताया जाता है। कि उन्होंने क्रिप्टोकरंसी में बहुत सारे अध्ययन किए हैं।

बाद में उन्होंने बिटकॉइन बनाया। इसके अलावा, सतोशी नाकामोतो ने बिटकॉइन ( Bitcoin )की तकनीक विकसित की है। बिटकॉइन का संक्षिप्त नाम ₿ है और इसका दूसरा नाम BTC है। आज लगभग पूरी दुनिया में बिटकॉइन का उपयोग किया जाता है।

यह भी पढ़े : IPS Officer Kaise Bane

Bitcoin Kaise Kaam Karta Hai – बिटकॉइन कैसे काम करता है

आज की तारीख में सभी प्रकार की क्रिप्टोकरंसी कंपनियां ब्लॉकचेन (Blockchain) तकनीक का उपयोग करती हैं और इसे काफी सुरक्षित माना जाता है। मुख्य कारण यह है कि इस टेक्नोलॉजी को दुनिया में कोई हैकर नहीं हैक सकता है। यहां पर जो भी पैसे का लेनदेन होता है, उसका पूरा डाटा ब्लाकचैन तकनीक में स्टोर किया जाता है।

और क्रिप्टो माइनिंग, जिसे हम क्रिप्टो माइनिंग कहते हैं, डाटा को स्टोर करता है। जहां hash code ब्लॉक में सभी तरह के लेनदेन डाटा को सुरक्षित रखता है। ब्लाकचैन टेक्नोलॉजी को चलाने के लिए दुनिया का सबसे शक्तिशाली कंप्यूटर प्रयोग किया जाता है।

Bitcoin Se Kya Fayda Hai – बिटकॉइन के फायदे

  • ज्यादातर देश बिटकॉइन का उपयोग करते हैं और आप आसानी से किसी को पैसे दे सकते हैं।
  • क्योंकि बिटकॉइन पर कोई सरकारी संस्था या व्यक्ति का कोई अधिकार नहीं है, बिटकॉइन अकाउंट को कोई भी व्यक्ति ब्लॉक नहीं कर सकता।
  • आप अंतरराष्ट्रीय लेनदेन में इसका उपयोग करने के लिए कोई अंतरराष्ट्रीय कर नहीं देना पड़ेगा।
  • यह किसी भी देश में कानूनी रूप से मान्यता नहीं है, इसलिए आप आसानी से इसका उपयोग कर सकते हैं और यहां पर कोई टैक्स भी नहीं देना पड़ेगा।

Bitcoin Se Kya Nuksan Hai – बिटकॉइन के नुकशान

Bitcoin Ka Malik Kaun Hai

बिटकॉइन का इस्तेमाल करने के कुछ नुकसान भी हैं। जोकि निचे कुछ इस प्रकार बताये गए हैं 

  • किसी भी देश की सरकार बिटकॉइन को Authorize नहीं करती है।
  • अगर आप बिटकॉइन का उपयोग करते समय कोई गलती करते हैं, तो आप पैसे वापस नहीं पाएंगे या उसे रिकवर नहीं कर पाएंगे।
  • आतंकवादी हथियार खरीदने और काले धन को वाइट मनी में बदलने के लिए Bitcoin का उपयोग करते हैं।
  • बिटकॉइन का मूल्य अचानक गिर सकता है, जिससे आप भारी नुकसान भी उठाना पड़ सकता है क्योंकि इसका मूल्य स्थिर नहीं है।

Bitcoin Kis Desh Ki Mudra Hai – बिटकॉइन का मालिक कौन है

जापान के इंजीनियर सातोशी नाकामोटो ने बिटकॉइन बनाया था। हालांकि बिटकॉइन जापान में बनाया गया है, लेकिन जापान सरकार को बिटकॉइन (Bitcoin) पर कोई नियंत्रण या अधिकार नहीं है. बिटकॉइन किसी भी देश की मुद्रा नहीं है। यही कारण है कि बिटकॉइन किसी भी देश की मुद्रा नहीं है।

बल्कि यह कई देशों में लीगल नहीं है, लेकिन कुछ देशों में कानूनी रूप से मान्यता दी गई है। El Salvador, Central America, Bitcoin को लीगल टेंडर या देश की मुद्रा मानने वाली पहली देश है।

यह भी पढ़े : Mobile Se PF Kaise Nikale

India Me Bitcoin Kaise Kharide – भारत में बिटकॉइन कैसे खरीदें

कई ऐप द्वारा बिटकॉइन (Bitcoin) खरीद सकते हैं। Coinswitch, Wazirx, Binance, Zebpay, Unocoin और अन्य बड़े बिटकॉइन खरीदने वाले ऐप हैं। इन सभी ऐप से आप बिटकॉइन खरीद सकते हैं। और आप इन ऐप्स में बिटकॉइन रखते हैं तो इन्हें बेचकर भारतीय करेंसी प्राप्त कर सकते हैं।

क्या बिटकॉइन भारत में लीगल है या नहीं : Bitcoin का मालिक कौन है

भारत में बिटकॉइन कानून तौरपर लीगल नहीं है आप इस बात को समझ सकते हैं कि इस तरह की डिजिटल करेंसी को भारत के आरबीआई बैंक ने मान्यता नहीं दी है, इसलिए इसे अभी तक कानूनी मान्यता नहीं मिली है। इसके अलावा, बिटकॉन को लेकर भारतीय कानून भी नहीं बनाए गए हैं। इससे भारत में बिटकॉइन को कानून के नजरों में लीगल माना जा सके.

हाल ही में देश का बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने क्रिप्टोकरंसी पर बोलते हुए कहा कि अगर कोई बिटकॉइन में किसी भी तरह का लेनदेन करता है तो उसे सरकार को ३० प्रतिशत का टैक्स देना पड़ेगा।

यह भी पढ़े : Pytm Se Paise Kaise Kamaye

भारत में बिटकॉइन का भविष्य – Bitcoin Ka Malik Kaun Hai

Bitcoin Ka Malik Kaun Hai

भारत में बिटकॉइन का भविष्य के संबंध में हम इसे कई विभाजनों में विचार कर सकते हैं।

बिटकॉइन के विधायिका में बदलाव

भारत सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी और बिटकॉइन (Bitcoin ) को लेकर अपनी विधायिकाओं में बदलाव करने की घोषणा की है। इसके संबंध में बड़े स्तर पर परिवर्तन होने की संभावना है, जो इसके भविष्य को प्रभावित कर सकती है।

सरकारी मानवश्रेणी

भारत सरकार ने क्रिप्टोकरेंसी के संबंध में अपनी एक मानवश्रेणी की घोषणा की है। इसमें व्यक्तियों के बिटकॉइन खरीदने, बेचने और उपयोग करने के संबंध में निर्देश शामिल हैं। यह भारत में बिटकॉइन ( Bitcoin )का भविष्य बता सकता है।

बैंकों की भूमिका

भारतीय बैंकों का बिटकॉइन व्यापार में बढ़ता हुआ रुझान भी इसके भविष्य को प्रभावित कर सकता है। यह इस तथ्य के साथ जुड़ा है कि कुछ बैंक बिटकॉइन संबंधी व्यापार को अपने प्रतिबंधों के अंतर्गत समर्थित कर रहे हैं, जबकि कुछ ने इसे बहिष्कार किया है।

निवेशकों का रुझान

भारत में बिटकॉइन के भविष्य पर निवेशकों के रुझान का भी बड़ा प्रभाव होता है। इसमें बिटकॉइन के अद्भुत रुझान और निवेशकों के विश्वास का खेल है, जो इसे भविष्य में सफलता की ओर ले जा सकता है।

भारत में बिटकॉइन का भविष्य

वर्तमान में, भारत में करीब 10 करोड़ निवेशक हैं, जिन्होंने क्रिप्टोकरेंसी में निवेश किया हुआ है। इस समय, भारतीय निवेशकों द्वारा क्रिप्टो मार्केट में लगभग 6 लाख करोड़ रुपये का निवेश किया गया है, और औसतन, प्रत्येक निवेशक ने लगभग 9,000 रुपये का निवेश किया है।

सरकार का मुख्य चिंता बिंदु यह है कि क्रिप्टोकरेंसी के माध्यम से निवेश करने वाले 60% निवेशक छोटे शहरों से हैं। वे नौजवान हैं, जिनकी औसत आयु 24 साल है, इसका मतलब है कि यह नई निवेश मार्केट में ज्यादातर युवा शामिल हो रहे हैं।

Bitcoin में Investment करें या नहीं Video Tutorial

FAQ :-

सभी बिटकॉइन का मालिक कौन है?

बिटकॉइन नेटवर्क में सभी बिटकॉइन ट्रांजैक्शन्स का एक जाल होता है, लेकिन इन ट्रांजैक्शन्स के पीछे कोई सिंगल मालिक नहीं होता है। यह डिस्ट्रीब्यूटेड लेजर (ब्लॉकचेन) प्रौद्योगिकी पर आधारित होता है, जिसमें कई लोगों को बिटकॉइन्स की मिल्टिपल कॉपीज होती हैं, और हर Bitcoin Wallet की अपनी-अपनी क्रिप्टोग्राफिक खुलीए और निजी कुंजी होती है। इसके कारण, बिटकॉइन नेटवर्क के सभी उपयोगकर्ता उनके मालिक नहीं होते हैं।

बिटकॉइन क्या है?

बिटकॉइन एक आभासी मुद्रा है जिसे व्यक्तियों के बीच आपसी लेन-देन के लिए इस्तेमाल किया जाता है। यह एक डिजिटल करेंसी है और किसी भी सरकार या बैंक द्वारा नियंत्रित नहीं किया जाता है।

Bitcoin की शुरुआत कब हुई?

बिटकॉइन 3 जनवरी 2009 को शुरू हुआ था।

बिटकॉइन का अविष्कार किसने किया?

बिटकॉइन का अविष्कार सटोशी नाकामोतो नामक व्यक्ति ने 2008 में किया था।

बिटकॉइन का मुख्यालय कहाँ है?

बिटकॉइन का मुख्यालय Las Vegas में स्थित है।

निष्कर्ष

आपने इस लेख में यह सीखा बिटकॉइन क्या है Bitcoin Ka Malik Kaun Hai – Bitcoin का मालिक कौन है? और आपको बिटकॉइन किस देश की मुद्रा है पता चल ही गया होगा . अगर आप भी बिटकॉइन में निवेश करना चाहते हैं तो बेशक करें, लेकिन उतना ही निवेश करें जितना आप नुकसान सहने के लिए तैयार हैं।

जैसा कि आप जानते हैं, बिटकॉइन की कीमत में भारी वृद्धि हुई है हाल ही में बिटकॉइन ( Bitcoin ) की कीमत 50 लाख से भी अधिक हो गई है, लेकिन आज लगभग 30 लाख हो गई है। इसलिए, अगर आप निवेश करना चाहते हैं, तो बुद्धिमानी से और बहुत सोच-समझकर करें।

आशा है कि आपको मेरा यह लेख अच्छा लगेगा और आपको इस  Article के माध्यम से काफी चीज सिखने को मिलेगी। आप इसे अपने दोस्तों, मित्रों और सोशल मीडिया साइट्स जैसे Facebook और Twitter पर भी शेयर करें। आप कमेंट के माध्यम से किसी भी प्रकार का प्रश्न या सुझाव पूछ सकते हैं, धन्यवाद!

मै अपने सभी पाठको का The Updated Baba में स्वागत करता हूं. यह हमारा हिंदी ब्लॉग है जहां पर हर रोज Technology, Information, Health, Banking, Share Market से सम्बंधित जानकारी दी जाती है।

Leave a Comment