IPS Officer Kaise Bane : 12th के बाद आईपीएस ऑफिसर कैसे बने

आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा) एक बहुत ही प्रतिष्ठित और आकर्षक पद है जिसे अपना बनाने के लिए 12वीं के बाद छात्रों को विशेष तैयारी की आवश्यकता होती है। इस लेख में, हम आपको 12वीं के बाद आईपीएस ऑफिसर ( ips officer kaise bane ) बनने की प्रक्रिया के बारे में विस्तार से बताएंगे और आपको मार्गदर्शन प्रदान करेंगे कि आप कैसे इस महत्वपूर्ण करियर में सफलता प्राप्त कर सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Table of Contents

आईपीएस का मतलब क्या है?

आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा) एक गवर्नमेंट सेवा है जो विभिन्न राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों में कठिन और महत्वपूर्ण कानून व्यवस्था की रचना और प्रशासन करती है। आईपीएस ऑफिसर अपराध और सुरक्षा से जुड़े विभिन्न कार्यों के लिए जिम्मेदार होते हैं और सामान्य जनता की सुरक्षा और क़ानून व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कार्य करते हैं।

आईपीएस ऑफिसर का कार्य

आईपीएस ऑफिसर का कार्य विभिन्न होता है और यह सरकारी सेवा की मान्यता, उच्चतम स्तर की सुरक्षा और सामान्य जनता के साथ मदद करने के लिए निम्नलिखित कार्यों को शामिल कर सकता है:

  • अपराध जांच और जांच आदेश देना
  • अपराध संज्ञान और बचाव कार्रवाई
  • शांति बनाए रखना और आपातकालीन स्थितियों में सुरक्षा सुनिश्चित करना
  • जनसमर्थन और संघर्ष नियंत्रण कार्य
  • कथित अपराधियों की गिरफ्तारी और मुकदमेबाजी
  • शासनिक व्यवस्था की पालना करना
  • अपराध संबंधी विवादों में मध्यस्थता करना
  • अधिकारियों और कर्मचारियों की प्रशिक्षण और प्रबंधन करना

आईपीएस ऑफिसर की प्रवेश परीक्षा

ips officer kaise bane आईपीएस ऑफिसर कैसे बने
आईपीएस ऑफिसर ( ips officer kaise bane )

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए, छात्रों को संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा (सामान्य योग्यता परीक्षा) का सामरिक रूप से उत्तीर्ण करना होता है। यह परीक्षा तीन चरणों – प्रारंभिक परीक्षा, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार के माध्यम से आयोजित की जाती है।

प्रारंभिक परीक्षा में, छात्रों को सामान्य अध्ययन, सामान्य विज्ञान, भूगोल, भारतीय राजनीति, इतिहास, साहित्य, आर्थिक और सामाजिक विज्ञान, मनोविज्ञान, सामान्य विज्ञान और साहित्य से संबंधित प्रश्नों का सामरिक परीक्षण किया जाता है। मुख्य परीक्षा में, छात्रों को विषयवार पेपर्स देने होते हैं जो विशेषज्ञों द्वारा चयनित किए जाते हैं। साक्षात्कार में, छात्रों को उनकी व्यक्तिगतता, ज्ञान, विचारशक्ति, नैतिकता, और संघर्ष क्षमता का मूल्यांकन किया जाता है।

आईपीएस ऑफिसर के लिए उच्च शिक्षा की आवश्यकता

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए उच्च शिक्षा की आवश्यकता होती है। आपको किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक (बैचलर) डिग्री प्राप्त करनी होगी। कई विषयों में उच्च शिक्षा की सुविधा उपलब्ध है, जिसमें सामाजिक विज्ञान, साहित्य, विज्ञान, वाणिज्य, कला, सामाजिक कार्य, आदि शामिल हो सकते हैं।

सामान्य योग्यता परीक्षा (सिविल सेवा परीक्षा)

सामान्य योग्यता परीक्षा, जिसे सिविल सेवा परीक्षा भी कहा जाता है, आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए सबसे महत्वपूर्ण परीक्षा है। यह परीक्षा राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित की जाती है और इसमें लगभग तीन चरण होते हैं – प्रारंभिकपरीक्षा, मुख्य परीक्षा, और साक्षात्कार।

प्रारंभिक परीक्षा में छात्रों को सामान्य अध्ययन, सामान्य विज्ञान, भूगोल, भारतीय राजनीति, इतिहास, आर्थिक और सामाजिक विज्ञान, मनोविज्ञान, सामान्य विज्ञान और साहित्य से संबंधित प्रश्नों का सामरिक परीक्षण किया जाता है। मुख्य परीक्षा में, छात्रों को विषयवार पेपर्स देने होते हैं जो विशेषज्ञों द्वारा चयनित किए जाते हैं। साक्षात्कार में, छात्रों को उनकी व्यक्तिगतता, ज्ञान, विचारशक्ति, नैतिकता, और संघर्ष क्षमता का मूल्यांकन किया जाता है।

साक्षात्कार

सिविल सेवा परीक्षा में साक्षात्कार एक महत्वपूर्ण चरण है जिसमें छात्रों की व्यक्तिगतता, संघर्ष क्षमता, ज्ञान, विचारशक्ति और नैतिकता का मूल्यांकन किया जाता है। साक्षात्कार के दौरान, आपको स्वयं को संगठित रूप से प्रस्तुत करना होगा, सामान्य ज्ञान, करंट अफेयर्स, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मामलों के बारे में प्रश्नों का उत्तर देना होगा। आपकी वाणीक और अभिव्यक्ति कौशल भी महत्वपूर्ण होंगे। साक्षात्कार में स्वयं को आत्मनिर्भर, नैतिक, सक्रिय और नेतृत्वी साबित करने का मौका होगा।

चयनित छात्रों के लिए प्रशिक्षण

ips officer kaise bane आईपीएस ऑफिसर कैसे बने
IPS Officer Kaise Bane

एक बार जब छात्र सिविल सेवा परीक्षा में चयनित होते हैं, तो उन्हें आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए प्रशिक्षण का अवसर प्राप्त होता है। यह प्रशिक्षण भारतीय पुलिस सेवा अकादमी (आईपीएसए) और राष्ट्रीय पोलिसी अकादमी (एनपीए) में प्रदान किया जाता है।

इन अकादमियों में छात्रों को नैतिक मानदंड, संगठनात्मक योजनाबद्धता, कानूनी और पुलिसी नियमों का ज्ञान, और सुरक्षा से संबंधित कौशलों की प्रशिक्षण दी जाती है। यह प्रशिक्षण छात्रों को वास्तविक जीवन में आईपीएस ऑफिसर के कार्य की मजबूत और व्यावहारिक तैयारी प्रदान करता है।

यह भी पढ़े : 12th Ke Baad IAS Kaise Bane

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए शारीरिक योग्यता

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए शारीरिकयोग्यता भी महत्वपूर्ण है। आपको शारीरिक रूप से स्वस्थ और योग्य होना चाहिए। यह आपकी स्थायित्व, द्रढ़ता, ताकत, और शारीरिक सहनशक्ति को शामिल करता है। आपको नियमित रूप से व्यायाम करना, शारीरिक क्षमता बढ़ाने के लिए उचित आहार लेना, और अपने शारीर को स्वस्थ और फिट रखने के लिए आवश्यक कदम उठाने होंगे।

नैतिक मानदंड और अन्य आवश्यक कौशल

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए, छात्रों को नैतिक मानदंड और अन्य आवश्यक कौशलों को भी विकसित करना होगा। आपको सामाजिक न्याय, नैतिकता, ईमानदारी, उच्चतम मानकों का पालन करना चाहिए। साथ ही, आपको अच्छी व्यक्तिगत गुणवत्ता, संचार कौशल, नेतृत्व कौशल, समस्याओं का समाधान करने की क्षमता, और सहयोग देने की क्षमता को भी विकसित करना होगा। इन सभी कौशलों को विकसित करने के लिए, आप सोशल सर्विस निकटतम उपस्थिति, स्वयं सेवा कार्य, और समाज सेवा कार्यों में भाग लेने का समय निकाल सकते हैं।

आईपीएस ऑफिसर के लिए पदोन्नति और करियर संभावनाएं

आईपीएस ऑफिसर के रूप में जब आप अपनी करियर की शुरुआत करते हैं, तो आपके पास विभिन्न पदों पर पदोन्नति और करियर के बहुत सारे अवसर होते हैं। आप नगरीय पुलिस, राज्य पुलिस, सीबीआई, इंटेलिजेंस ब्यूरो, राष्ट्रीय सुरक्षा संगठन, और अन्य सरकारी विभागों में सेवा कर सकते हैं। आपके करियर में आगे बढ़ते समय, आपको बड़े पदों पर उच्चतम स्तर की सामरिक पदोन्नति प्राप्त हो सकती है। [1]

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए संकाय और अवसर

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए कई संगठन और अवसर मौजूद हैं जिनमें आप आवेदन कर सकते हैं। संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा, रोजगार प्राधिकरण (एसएससी) द्वारा जारी की गई अधिसूचनाएं, और अन्य राज्य सरकारों द्वारा आयोजित परीक्षाएं इस क्षेत्र में प्रमुख हैं।

आपको इन अवसरों पर नजर रखने और उनकेआवेदन प्रक्रिया के लिए नियमित रूप से जांच करना चाहिए। इन संगठनों की वेबसाइटों और समाचार पत्रों पर अद्यतित रहना आपको आवेदन प्रक्रिया, परीक्षा तिथियाँ, पाठ्यक्रम, आवश्यकताएं, और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त करने में मदद करेगा।

रोजगार प्राधिकरण (एसएससी) की ओर से जारी अधिसूचनाएं

रोजगार प्राधिकरण (एसएससी) भी आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए अवसर प्रदान करता है। एसएससी द्वारा विभिन्न स्तरों पर जारी की जाने वाली अधिसूचनाएं आपको आवेदन करने का मौका देती हैं। ये अधिसूचनाएं सामान्य योग्यता परीक्षा, सब इंस्पेक्टर आदि के लिए होती हैं। आपको एसएससी की वेबसाइट पर अधिसूचनाओं की नियमित जांच करनी चाहिए और आवेदन प्रक्रिया के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त करनी चाहिए।

IPS Officer Kaise Bane तैयारी के लिए ख़ास टिप्स

ips officer kaise bane आईपीएस ऑफिसर कैसे बने
IPS Officer Kaise Bane

आईपीएस ऑफिसर बनने के लिए तैयारी करते समय, आपको निम्नलिखित टिप्स का ध्यान रखना चाहिए:

  • संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) के पाठ्यक्रम को ध्यान से पढ़ें और उसे अच्छी तरह समझें।
  • विशेषज्ञों द्वारा लिखित पुस्तकें, सामग्री, और स्टडी मटेरियल का उपयोग करें।
  • सामान्य ज्ञान को अद्यतित रखें। दैनिक समाचार पत्रों, वेबसाइटों, और साक्षात्कार के माध्यम से वर्तमान मामलों के बारे में जानकारी प्राप्त करें।
  • स्वास्थ्य और शारीरिक योग्यता को बनाए रखें। नियमित रूप से व्यायाम करें और स्वस्थ आहार लें।
  • पिछले वर्षों के प्रश्न पत्रों को हल करें और मॉक टेस्ट दें। यह आपको परीक्षा पैटर्न, समय प्रबंधन, और अभ्यास की मजबूती के लिए मदद करेगा।
  • अच्छी अध्ययन सामग्री को नोट्स बनाएं और महत्वपूर्ण तथ्यों को याद करने के लिए मनोगतिक तकनीकों का उपयोग करें।

FAQ :-

12वीं के बाद आईपीएस ऑफिसर कैसे बने ?

आईपीएस बनने के लिए 12वीं के बाद निम्नलिखित पदार्थों को पूरा करना आवश्यक होता है:
ग्रेजुएशन पूरी करें: आईपीएस बनने के लिए ग्रेजुएशन आवश्यक है। किसी भी विषय में स्नातक पूरा कर सकते हैं।
आईपीएस परीक्षा के लिए योग्यता प्राप्त करें: इसके लिए उम्मीदवार को भारतीय नागरिक होना चाहिए और 21-32 वर्ष की आयु होनी चाहिए।
प्राथमिकता परीक्षा (प्रीलिम्स) दें: यह परीक्षा लिखित परीक्षा होती है और इसे उत्तीर्ण करने के बाद आप मुख्य परीक्षा में भाग ले सकते हैं।

IPS बनने के लिए कितने साल पढ़ाई करनी पड़ती है?

IPS बनने के लिए कितने साल पढ़ाई करनी पड़ती है, इसका सीधा संबंध भारतीय पुलिस सेवा (Indian Police Service) में प्रवेश लेने के लिए किये जाने वाले संयमित तैयारी की गुणवत्ता पर निर्भर करता है। सामान्यतया, IPS बनने के लिए अभ्यासक्रम के लिए करीब तीन साल का समय आवश्यक होता है। यह अवधि आपके अभ्यास, संशोधन, और परीक्षाओं के परिणाम पर निर्भर करेगी।

आईपीएस में कितने सब्जेक्ट होते हैं?

आईपीएस (Indian Police Service) में विभिन्न सब्जेक्ट होते हैं जो व्यापक रूप से विभाजित होते हैं। सामान्यतः, आईपीएस की परीक्षा में इस्तेमाल होने वाले सब्जेक्ट राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय विषयों पर आधारित होते हैं, जिनमें भूगोल, इतिहास, भारतीय राजव्यवस्था, आर्थिक विज्ञान, जनसंख्या अध्ययन, विज्ञान और प्रौद्योगिकी, सामान्य अधिगम आदि शामिल हो सकते हैं।

2023 में भारत में कितने आईपीएस हैं?

2023 में भारत में कुल मिलाकर 4,982 आईपीएस हैं।

क्या आईपीएस के लिए साइंस जरूरी है?

हाँ, आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा) के लिए साइंस का महत्वपूर्ण योगदान होता है। साइंस, विज्ञान और प्रौद्योगिकी से संबंधित ज्ञान आपको कानूनी, तकनीकी और वैज्ञानिक मामलों की समझ में मदद करता है। इसके बिना, आपकी तैयारी में कुछ कमी आ सकती है जो आगामी परीक्षाओं में अस्वीकार्य हो सकती है। इसलिए, आपको साइंस की अच्छी जानकारी होनी चाहिए जो आपकी आईपीएस परीक्षा में सफलता के लिए आवश्यक होगी।

निष्कर्ष :

दोस्तों आज हमने जानां आईपीएस ऑफिसर कैसे बने ( ips officer kaise bane ) और साथ ही उसके चयन प्रकिर्या के बारे में विस्तारपूर्वक समझा इसके अलावा हमने इसके नैतिक मापदंड के बारे में भी अच्छे से समझा आशा करता हूँ आपको मेरा ये Article ज़रूर पसंद आयेगा यदि आपका कोई सुझाव है तो आप हमसे निचे Comment Box में पूछ सकते है। हमारे इस आर्टिकल को अधिक से अधिक शेयर करे ताकि अन्य लोगो तक यह जानकारी पहुंच सके।

मै अपने सभी पाठको का The Updated Baba में स्वागत करता हूं. यह हमारा हिंदी ब्लॉग है जहां पर हर रोज Technology, Information, Health, Banking, Share Market से सम्बंधित जानकारी दी जाती है।

Leave a Comment