शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय : शुगर कंट्रोल कैसे करें

क्या आप जानना चाहते है शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय और शुगर के लक्षण और इलाज क्या है साथ ही यह भी जानेंगे शुगर कंट्रोल कैसे करें तो दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हम इससे सम्बंधित बात करेंगे विस्तारपूवर्क जैसा कि आजकल Sugar की बीमारी आम होती जा रही है इसके पीछे कई कारण हो सकते है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

वर्त्तमान समय में भारत के अंदर Sugar के मरीज दिन प्रतिदिन बढ़ते जा रहे है इसके पीछे की मुख्य वजह हो सकती है तनाव और अपने खान पान का सही ढंग से ख्याल ना रखना यह ना केवल एक बीमारी है बल्कि इससे अन्य बिमारियों का भी जन्म होता है जैसे कि नर्वसनेस का बढ़ना , हृदय से जुडी बीमारियां उत्पन्न होना आदि।

शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय – शुगर क्या होता है ?

चलिए बात करते है शुगर क्या होता है। यह एक ऐसा रोग है जिसमे आपके रक्त के अंदर ग्लूकोस की मात्रा अधिक हो जाती है जिसको हम डायबिटीज भी कहते है यह आज के समय में एक आम बीमारी बन गयी है.

लगभग भारत के हर घर में आज Sugar का एक मरीज ज़रूर पाया जाता है इसके मुख्यरूप से दो प्रकार है टाइप 1 – जिसमे की यह पाया जाता है कि हमारा शरीर इन्सुलिन का उत्पादन करना बंद कर देता है और टाइप 2 – जिसमे हमारा शरीर इन्सुलिन का उत्पादन तो करता है मगर वह हमारे शरीर के लिए पर्याप्त नहीं होता है। 

शुगर के प्रकार जाने : शुगर कंट्रोल कैसे करें

  • टाइप 1 डायबिटीज : टाइप 1 डायबिटीज के अंदर हमारा शरीर इन्सुलिन उत्पन्न नहीं कर पाटा है यह बीमारी अक्षर तब जन्म लेती है जब आपके प्रतिरक्षा तंत्र अंग्न्याशय में मौजूद कोशिकाओं को नष्ट कर देता है जो इन्सुलिन बनाने का कार्य करती है आज इस समस्या का असर युवाओं और बच्चों में अधिक देखने को मिल रही है जितना हो सके इस बीमारी से बचने की कोशिस करें अन्यथा आपको जीवनभर इन्सुलिन के इंजेक्शन लेने पड़ सकते है यह एक घातक बीमारी है इसको बिलकुल भी हलके में ना लें.
  • टाइप 2 डायबिटीज : टाइप 2 डायबिटीज इसी से मिलती जुलती बीमारी है बस इसमें यह फर्क पाया गया है कि यहाँ आपके शरीर में इन्सुलिन तो बनता है मगर वह आपके बॉडी के लिए पर्याप्त नहीं होता है और सही ढंग से कार्य करने में असक्षम होता है यह डायबिटीज किसी को भी हो सकती है परन्तु इसका खतरा अधिकतर अधिक आयु वर्ग वाले इंसान बना रहता है जिनपर अधिक होने की सम्भावना होती है.

आपको बता देना चाहूंगा कि इससे जितना हो सके बच कर ही रहें क्यूंकि इसका कोई भी पक्का इलाज अभी तक नहीं पाया गया है अगर आपको दुर्भाग्यवश यह बीमारी हो जाती है तो आप अपने शुगर लेवल की बार बार जाँच रखकर एक साधारण जीवन जी सकते है.आगे मैं आपको इसके घरेलू उपाय के बारे में बताऊँगा जो आपके लिए काफी कारगर सिद्ध हो सकते है मगर आप डॉक्टर से इसकी समय – समय पर अवश्य जाँच करवाते रहें।

शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय : 10 घरेलु उपाय जाने

शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय

पाठकों आगे मैं आपको इसके 10 घरेलू उपाय के बारे में बताने जा रहा हूँ अगर आप इसका नियमित रूप से पालन करते है तो ज़रूर आपका शुगर लेवल कम रहेगा यह सभी तरीके आप आसानी से अपना सकते है तो चलिए बात करते है उन घरेलू उपाय के बारे में। 

आंवला :

जैसा कि आप सब जानते है आवंले में विटामिन C की मात्रा भरपूर रूप से पायी जाती है और साथ ही इसमें आयरन , कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम पाया जाता है आपने देखा होगा प्राचीन आयुर्वेद में आंवले को कितनी महत्वता दी जाती थी और इसका उपयोग आज भी तरह तरह की दवाइयां बनाने में किया जाता है आवंले के अंदर क्रोमियम पाया पाया जाता है जो आपके इन्सुलिन हार्मोन्स को मजबूत रखता है जिससे आपका शुगर लेवल नियंत्रण में रहता है आपको रोजाना आंवले का रस शहद में मिलकर पीना चाइये और आप आवंले का पाउडर भी बना कर पानी के साथ रोजाना पियें इससे आपको काफी फायदा मिलेगा। 

आम का पत्ता :

पाठको क्या आप जानते है आम का पत्ता भी sugar में बहुत ही फायदेमंद बताया गया है इसमें विटामिन A की मात्रा पायी जाती है  और साथ साथ पोटेशियम , मैग्नीशियम भी पाया जाता है जब डायबिटीज की बीमारी होती है तब साथ में अन्य बीमारियां भी उत्पन्न हो जाती है जिसमे की आम का पत्ता काफी फायदेमंद है इसमें आप रात को सोने से पहले 8 से 10 आम के कोमल पत्तों को भिगो दें और खली पेट सुबह छानकर इसका सेवन करें ऐसा नियमित रूप से करने में आपको ज़रूर फायदा मिलेगा। 

एलोवेरा :

sugar में एलोवेरा काफी फायदेमंद है क्यूंकि इसमें विटामिन , मिनरल्स और इमोडिन पाया जाता है जोकि शरीर में ग्लूकोज के लेवल को घटाता है अगर आप एलोवेरा को हल्दी तथा तेजपत्ते के साथ नियमित रूप से सेवन करते है तो आपको काफी फायदा मिलेगा आप आसानी से घर में ही इसका पावडर तैयार कर लें और रोजाना 2 से 3 बार इसको पानी में मिलकर पियें। यह sugar control करने में काफी मदद करता है।  

जामुन :

ऐसा कहा जाता है की जो भी sugar की समस्या से जूझ रहा है उसके लिए जामुन एक बहुत अच्छा उपाय है यह एक अचूक उपाय है रोजाना नियमित रूप से जामुन खाएं क्यूंकि इसमें फायबर भरपूर मात्रा में पाया जाता है इसके अलावा आयरन , विटामिन, कैल्शियम भी होता है जामुन की जड़ , बीज  और फल तीनो इसके लिए काफी फायदेमंद दवा है इसके बीज का पावडर तैयार कर लें और नियमित रोजाना दिन में 3 से 4 बार पियें यह आपके लिए काफी कारगर सिद्ध होगा और इससे आपका sugar control भी रहेगा।  

कड़ी का पत्ता :

 कड़ी पत्ते में बीटा कैरोटीन जैसे एंटीऑक्सीडेंट पाए जाने के साथ साथ विटामिन C की मात्रा भी पायी जाती है। इसका उपयोग कई भारतीय व्यंजन मे भी किया जाता है एशिया कहा जाता था कि इसमें आयुर्वेदिक गुण पाए जाते है और यह टाइप 2 डायबिटीज वालों के लिए बहुत फायदेमंद है इसलिए नियमित रूप से इसका सेवन भी करते रहे जल्द ही परिणाम नज़र आने लगेंगे। 

करेले का जूस :

करेला sugar को बहुत तेजी से नियंत्रण में रखता है इसलिए जितना हो सके इसका सेवन करें। करेला दोनों डायबिटीज  टाइप 1 डायबिटीज तथा टाइप 2 डायबिटीज के लिए फायदेमंद है रोजाना के खान पान में करेले का सेवन जल्द ही आपको अच्छे रिजल्ट दे सकता है अगर आप चाहें तो इसका जूस भी पी सकते है यह जल्द ही इन्सुलिन की संख्या को बढ़ाने का काम करता है। 

दालचीनी का पावडर :

दालचीनी का पावडर भी sugar वालों के लिए बहुत ही ज्यादा फायदेमंद है यह आपके sugar लेवल को काफी तेजी से कम करता है इसके अंदर एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा काफी अधिक पायी जाती है रोजाना आधा चम्मच दालचीनी का पावडर आधे गिलास पानी के साथ लें. रोजाना 2  से 3  टुकड़ों का सेवन करें अधिकतर मात्रा में लेना आपके पाचन किर्या से जुडी समस्या पैदा कर सकता है और यह टाइप 2 डायबिटीज वालों के लिए बहुत ही ज्यादा प्रभावशाली रहा है। [1]

मेथी का सेवन करें :

रोजाना मेथी का सेवन करना आपके शुगर के लेवल को जल्द ही कम कर देगा इसमें फायबर की मात्रा पायी जाती है इसके लिए आपको मेथी को एक बर्तन में भिगो लेना है और इसकी चटनी भी बना सकते है ऐसा आप रोजाना करे जिससे आपको जल्द ही फायदा मिलना शुरू हो जायेगा। 

भिंडी का सेवन करे :

अक्षर भिंडी की सब्जी तो हर घर में बनती ही है मगर क्या आप जानते है इसके अनमोल फायदे के बारे में कि भिंडी से शुगर का इलाज भी किया जा सकता है इसमें वसा , कैल्शियम , आयरन , फॉस्फोरस आदि जैसे तत्व पाए जाते है जो हमारे पाचन किर्या को मजबूत रखती है जब भी आप भिंडी बनाये इसको एक दिन के लिए पानी में भिगो दे और अगले दिन छानकर इसका पानी पी लें और बची हुयी भिंडी की आप सब्जी बना सकते है बहराल आप जान ही गए होंगे भिंडी से शुगर का इलाज भी संभव है। 

अमरूद :

अमरुद एक बहुत अच्छा फल है जो हम सबको खाना चाइये जोभी डायबिटीज के मरीज होते है उनको अक्षर कब्ज़ की शिकायत होने लगती है जैसा कि इसमें फायबर पाया जाता है जिससे कब्ज की शिकायत दूर हो जाती है अमरुद का नियमित सेवन आपके शुगर लेवल को बनाये रखता है।

यह भी पढ़े

शुगर कंट्रोल करने का देसी इलाज जाने : शुगर कंट्रोल कैसे करें

पाठकों हमने ऊपर आपको शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय के बारे में विस्तारपूर्वक बताया है हालांकि sugar का अभी तक कोई ऐसा इलाज नहीं है जिससे कि यह पूर्ण रूप से ख़त्म हो सके मगर कुछ सावधानियां हमें अपने खान पान में बरतनी है जिससे कि यह कंट्रोल में रहे और हमारा स्वास्थ बना रहे.

अगर आपको किसी प्रकार की शंका मन में उत्पन्न होती है sugar को लेकर तो इसमें बिलकुल भी ढील ना दे तुरंत डॉक्टर से अपना चेक अप करवाए और इलाज शुरू करदें और इस आर्टिकल के माध्यम से जो हमने देसी उपचार बताये है उसका भी पालन आप डॉक्टर की सलाह के पश्चात कर सकते है। [2]

शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय वीडियो देखें

शुगर के क्या लक्षण हो सकते हैं

जैसा की अब हम बात करने जा रहे है महिलाओं में sugar के लक्षण के बारे में तो आमतौर पर पुरुषों और महिलाओं में ज्यादातर सामान लक्षण ही पाए जाती है मगर कुछ ऐसे लक्षण होते है जो सिर्फ महिलाओं में देखने को मिलते है अधिकतर महिलाएं इन लक्षणों को नज़र अंदाज़ कर देती है जो कि आगे चलकर हमारे स्वास्थ पर गहरा असर डालती है। डॉक्टरों का कहना है महिलाओं में sugar के लक्षण कुछ इस प्रकार पाए जाते है जो निम्नलिखित है। 

1-मुँह तथा वजाइना में यीस्ट इन्फेक्शन का होना। 
2-सेक्सुअल प्रॉब्लम का होना। 
3-यूरिनरी ट्रेक्ट इन्फेक्शन का होना। 
4-आखों की रौशनी पर धुंधलापन का होना। 
5-डाइजेस्ट प्रॉब्लम या समस्या का उत्पन्न होना। 
6-प्रेगनेंसी से जुड़ी समस्या उत्पन्न होना। 
7-बार – बार अनियमित रूप से पीरियड्स की समस्या। 
8-ब्लड शुगर में उतार चढ़ाव का होना।

FAQ :

शुगर के मरीज को क्या क्या नहीं खाना चाहिए?

शुगर वाले मरीजों को अपने खान पान में ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता होती है इसलिए इन प्रकार के खान पान से बचे जैसे कि आलू और फ्राई फ्रूट्स, पैक्ड जूस और मैदे से बनी चीज इत्यादि।

शुगर बढ़ने का मुख्य कारण क्या है?

शुगर बढ़ने के वैसे कई कारण होते है इनमे से मुख्य कारण होता है अधिक तनाव व अन्हेल्थी डाइट और फिजिकल एक्टिविटी न करना और यदि आप अधिक मात्रा में कार्बोहाइड्रेट्स और अधिक शुगर वाली चीजों का सेवन अधिक करते है तो इससे भी ब्लड शुगर लेवल बढ़ने की सम्भावना बढ़ जाती है।

क्या भूखे रहने से शुगर बढ़ती है?

जी हाँ यह भी शुगर बढ़ने का मुख्य कारण हो सकता है अधिक भूके रहने से हमारे शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ने लगता है इसलिए इससे जितना हो सके बचने की कोशिश करें।

निष्कर्ष :

दोस्तों आज हमने जाना शुगर कंट्रोल करने के घरेलू उपाय के बारे में साथ ही यह भी जाना कि घरेलु उपाय द्वारा शुगर कंट्रोल कैसे करें और आमतौर पर इसके महिलाओं और पुरुष में किस प्रकार के लक्षण पाए जाते है। आशा करता हु आपको मेरा Article या Post ज़रूर पसंद आएगा।

मेरा आप लोगों से निवेदन है कि हमारी इस Post को अधिक से अधिक Social Media पर Share करें ताकि यह जानकारी अन्य लोगों तक पहुंच सके। यदि आपको कोई सुझाव या प्रश्न है तो आप हमसे निचे Comment Box में पूछ सकते हैं। धन्यवाद

मै अपने सभी पाठको का The Updated Baba में स्वागत करता हूं. यह हमारा हिंदी ब्लॉग है जहां पर हर रोज Technology, Information, Health, Banking, Share Market से सम्बंधित जानकारी दी जाती है।

Leave a Comment