Barcode Reader क्या है? : ( Barcode Reader in Hindi ) बारकोड कैसे काम करता है

दोस्तों आज का Topic है Barcode Reader क्या है? आसान भाषा में समझे तो यह आमतौर पर चीजों को स्कैन करने के लिए उपयोग होने वाला एक तकनीकी उपकरण है, आज के समय में हमारे दिनचर्या में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। वैसे यह सवाल बहुत से लोगों के मन में हो सकता है, और इस लेख में हम इस सवाल का उत्तर देने का प्रयास करेंगे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

इस पर यह सवाल आता है कि ये रेखाएं आखिर क्या हैं। क्या आपने कभी ध्यान दिया है कि जब दुकानदार सामान का बिल बनाते हैं, तो वे उन रेखाओं को कुछ समय के लिए मशीन पर रखते हैं और फिर अंत में हमें बिल मिलता है।

अब सवाल होता है कि ये रेखाएं क्या हैं और उनका क्या काम है। इन सवालों के जवाब के लिए, मैंने सोचा क्यों न बारकोड के बारे में आपको पूरी जानकारी दी जाए, जिसे हम Barcode कहते हैं।

ताकि आप समझ सकें कि आखिर Barcode Reader क्या है (Barcode Reader in Hindi) और यह कैसे काम करता है। जब हम कुछ खरीदते हैं, तो हमें यह अनजाने में मिलता है, लेकिन हम इन Barcode के साथ जरूर आते हैं।

Barcode Reader क्या है? : Barcode Reader in Hindi

आइये अब हम बात करेंगे Barcode Ka Matlab Kya Kota Hai तो Barcode एक छोटा सा पैटर्न होता है जो धाराओं और स्पेसेस से बना होता है, और इसे Scan करके आप उसमें छिपे जानकारी को पढ़ सकते हैं। यह एक unique code होता है जो उत्पादों, पैकेजिंग, और विभिन्न वस्तुओं को पहचानने के लिए इस्तेमाल होता है।

इसका उपयोग बिजनेस सेक्टर में inventery management से लेकर खुदरा बिक्री तक में होता है। Barcode का मुख्य लाभ यह है कि इससे गलतियों की कमी होती है और प्रक्रियाएं अधिक सुचारु होती हैं।

जब Barcode को स्कैन किया जाता है, तो उसमें छिपे गए डेटा को त्वरित रूप से सिस्टम में एंटर किया जा सकता है, जिससे गलतियों की संभावना कम होती है और समय बचत होती है।

इसके अलावा, Barcode आम लोगों के लिए भी उपयोगी हो सकता है, जैसे कि ऑनलाइन शॉपिंग करते समय उत्पादों की जानकारी प्राप्त करने में।

बस एक स्मार्टफोन एप्लिकेशन के माध्यम से Barcode Scan करें और आपको उत्पाद की सभी महत्वपूर्ण जानकारी मिल जाएगी, जैसे कि मूल्य, विशेषज्ञता, और समीक्षाएं।

इस प्रकार, Barcode हमारे दिनचर्या को सरल और आसान बना देता है, चाहे बिजनेस सेक्टर हो या फिर आम लोग। इसका उपयोग गलतियों की कमी करने में मदद करता है और साथ ही हमें समय और ऊर्जा की बचत करने में मदद करता है।

इसलिए, Barcode का अध्ययन करना और इसके उपयोग को सीखना महत्वपूर्ण है, ताकि हम इस तकनीकी उपकरण का सही रूप से लाभ उठा सकें।

यह भी पढ़े : माइक्रोफोन क्या है और यह कैसे काम करता है (What is Microphone)

Barcode Reader का इतिहास : History of Barcode Reader in Hindi

Barcode Reader Kya Hai

आपको ऊपर अच्छे से समझ आया होगा कि Barcode Reader क्या है, तो चलिए आगे जानेंगे Barcode के इतिहास के बारे में जो आपके लिए काफी रोचक भरा रहेगा तो बने रहिये .दोस्तों आपके ज्ञान के लिए बताना चाहूंगा कि Barcode का आविष्कार आज से 70 वर्ष पहले हो चूका है. जिस प्रकार Technology इतनी तेजी से बदल रही है उसी प्रकार इसमें भी काफी तेजी से बदलाव देखने को मिला है।

समय के तेजी से बदलते हुए जीवन के हिसाब से वैज्ञानिक भी काफी तेजी से आगे बढ़ रहे हैं वह भी इस छोटे से Machine readeable code की मदद से हमें अधिक से अधिक information देने की सोचते हैं. यदि हम इसके पीछे की कहानी में एक नज़र डालें तो आपके लिए यह आश्चर्य होगा कि इसका अविष्कार समुद्र तट के निकट 1949 में किया गया था।

Drexel University में Mechanical Engineer Joseph Woodland ने Morse Code से लगभग समान parallel lines बनाए। उन्हें उनके एक दोस्त बर्नार्ड सिल्वर ने एक सवाल का हल खोजने को कहा। Woodland भी इसी पर विचार कर रहा था।

Silver ने कहीं सुना था कि एक दुकान के मालिक ने Drexel University के डीन से एक ऐसा सिस्टम बनाने के बारे में ज़िक्र किया था। जिससे ग्रॉसरी चेकअप अपने आप से हो सके। उन दोनों ने पहले बारकोड का आविष्कार किया जब वे इसी समस्या का हल खोज रहे थे। जिससे 1952 में उनके नाम पर एक पेटेंट तैयार हो गया। उन्होंने इस पुरे प्रक्रिया का नाम “Classifying Appratus and Method” का नाम दिया। 

धीरे-धीरे लोगों द्वारा इस New Technology को बहुत पसंद किया गया। इससे कई संस्थाओं ने Barcode Technology पर काम करना जल्द शुरू कर दिया। इसका उपयोग करने में बहुत कम को सफलता हासिल हुयी। लेकिन 1966 में नेशनल एसोसिएशन ऑफ फूड चेन्स (NAFC) ने इस तकनीक को अपने ऑटोमेटेड चेकअप सिस्टम में लागू किया, जो सबसे बड़ी उपलब्धि थी। 

यह भी पढ़े : Bitcoin Ka Malik Kaun Hai – बिटकॉइन का मालिक कौन है

Uniform Grocery Product Code के ऊपर NAFC ने मध्य 1970 में US Supermarket Ad Hoc Committee बनाया। जिन्होंने barcode को और अधिक विकसित किया और किसी उत्पाद को पहचानने के लिए 11 डिजिट कोड को बनाया ताकि इससे किसी भी product को आसानी से पहचाना जा सके। 

लेकिन 26 जून 1974 को ट्रॉय, ओहियो में दुनिया में पहली बार सफलतापूर्वक बारकोड को स्कैन किया गया था। और समय के बदलते Barcode तकनीक में भी काफी बदलाव आया इसको और भी बेहतर बनाने के लिए इसमें नए नए features को भी जोड़ा गया ताकि यह और बेहतर और आसान बन सके। 

Barcode कैसे बनाये : Barcode Reader in Hindi

यदि आप मेरे इस Article को पढ़ रहे हैं, तो शायद आपके मन में यह बात आयी होगी या आप भी अपने या अपनी दुकान के लिए बारकोड बनाना चाहते हैं। ऐसा करना बहुत आसान है और आप भी निचे बताये गए Steps को follow करके बारकोड बना सकते हैं।

आपके लिए बता दूँ कि आप फ्री में बारकोड बनाने के लिए कई Online Option पर भी जा सकते हैं। और फ्री में Barcode तैयार कर सकते है तब तक बने रहे हमारे साथ और आगे की जानकारी को पढ़े।

  • बारकोड बनाने के लिए आपको सबसे पहले इनके Official Website पर Visit करना होगा। आप चाहे तो इस Link पर भी Click कर सकते हैं। https://barcode.tec-it.com/en 
  • जब आप Click करने के बाद Website पर जायेंगे तब आपको Online Barcode Generator का Option वहां पर मिलेगा आप इसपर Click करें। 
  • जिसके बाद आपके सामने कई विकल्प दिखाई देंगे जैसे लाइन codes, पोस्ट codes, 2D codes, बैंकिंग और भुगतान codes आपको जिस तरह का Code बनाना है आप उसका चयन कर लें। 
  • जो भी विकल्प दिखाई दे, उसे सही जानकारी के साथ भरकर सबमिट करें, फिर जेनेरेट कोड पर  जाएँ और उसपर click करें। 
  • जिसके बाद आपका कोड तैयार हो जायेगा जिस भी कोड का आपने चयन किया था उसके बाद इसको आप Download कर लें।

Barcode Reader Kya Hai Video Tutorial

Barcode Reader क्या है

Types of Barcode Reader in Hindi : बारकोड रीडर के प्रकार

अब हम जानेंगे Barcode के प्रकार के बारे। आपको बता दूँ इसके 2 मुख्य प्रकार है पहला 1D और दूसरा 2D इसमें सबसे ज्यादा उपयोग में आने वाला Barcode 1D है जिसको Universal Product Code के नाम से भी जानते है और इस UPC के 2 पार्ट है जिसमे पहला पार्ट है Barcode और दूसरा पार्ट है 12 डिजिट UPC नंबर। 

इसमें जो पहले 6 डिजिट होते है उसका काम होता है Manufacture’s Identification Number को Read करना और जो अगले 5 नंबर होते है उसका काम होता है Item Number को Find करना और जो अंतिम का डिजिट होता है वह उस बात की पुष्टि करता है की Scan ठीक तरह से हुआ है या नहीं। 

इसमें जो Liner यानि कि 1D बरकोड होता है उसका काम होता है केवल Text Information को ही Store करना और जो 2D बारकोड होता है वह इसके अलावा और भी अन्य Information को Collect करता है जैसे कि उस Product का Price और उसकी Quantity या उसका Address आदि। 

आपको यह बात जानकारी के लिए बताना चाहूंगा कि जो यह Liner Barcode होता है यह इस रूप से सक्षम नहीं होता कि यह 2D Barcode को Read कर सके जिसके लिए हम Image Scanner का उपयोग इसकी जगह पर करते है। 

जैसे जैसे Technology आगे बड़ी तो Camera mobile Phones आने लगे जिससे हम 2D Barcode को आसानी से Read कर सकते हैं। समय के हिसाब से 2D Barcode और भी ज्यादा Develop हो चूका है और साथ – साथ Mobile Users भी बढ़ चुके है जिससे इस Barcode का इस्तेमाल भी बढ़ने लगा है।

Barcode Scanner Kaise Kam Karta Hai

आइये अब जानेंगे Barcode Scanner Kaise Kam Karta Hai आसान भाषा में आपको बताने का प्रयास करूँगा। दरअसल यह एक स्कैनर और Barcode Symbology दोनों का combine पार्ट है।

जब भी हम किसी Barcode को पड़ने का प्रयास करते है तब हमें सबसे Scanner की ज़रूरत पड़ती है जब हम scan करते है तो Red Light जलती दिखाई देती है जो Information को Read करती है और आपके सामने लाती है।

इस Information के अंदर आपके product का price और type, quantity और item नंबर जैसी जानकारी उपलब्ध होती है जो आपके System में जाके Automatically Save हो जाती है।

इसका इस्तेमाल करने से बड़ी – बड़ी Companies को आसानी हो गयी अपने Product को Manage करने में जिससे वह अपने हर एक Product को Track भी कर पाते है। 

Barcode Reader का उपयोग जाने

दोस्तों आज के समय में इस Barcode Reader का इस्तेमाल कई अलग – अलग छेत्र में किया जा रहा है। इसका मुख्य कारण यह है कि इसके अंदर की छिपी हुयी जानकारी को केवल यह Barcode Reader ही Read कर सकता है और काफी सुरक्षित भी है। इसलिए इसका उपयोग काफी तेजी से हो रहा है। अब निचे आप देखेंगे किन छेत्रों में इसका उपयोग अभी सबसे ज्यादा किया जा रहा है। आइये जानते है।

  • बैंकिंग के छेत्र में
  • शॉपिंग मॉल में
  • बुक्स स्टाल की शॉप में
  • सुपर मार्किट में
  • रिटेल शॉप में

FAQ

बारकोड का अविष्कारक कौन है ?

यदि आप भी यह जानना चाहते है कि Barcode का अविष्कार किसने किया तो इसका अविष्कार Norman Joseph Woodland ने किया था।

बारकोड कितने होते हैं?

वैसे तो बारकोड के कई प्रकार है मगर इस समय मार्किट में लगभग 30 बारकोड सिम्बोलॉजी उपयोग में है।

बारकोड में कितने अंक होते है ?

बारकोड में आपको 1 से 9 तक अंक दिखाई देंगे जिनका अपना मतलब भी है जो आपको इस Article के मध्य दिखाई देगा।

निष्कर्ष

दोस्तों आज हमने जाना Barcode Reader क्या है ( Barcode Reader in Hindi ) और Barcode Ka Matlab Kya Kota Hai साथ में यह भी जाना यह कितने प्रकार के होते हैं। और इसको आप अपने उपयोग के लिए कैसे बना सकते हैं। आशा करता हूँ आपको मेरा यह Article या Post ज़रूर पसंद आएगा और आपको भी यह जान पाने में काफी मदद करेगा कि Barcoded क्या है .

यदि आपका कोई सुझाव या प्रश्न है तो आप हमसे निचे Comment Box में पूछ सकते हैं। और इस जानकारी को अधिक से अधिक लोगों को ज़रूर Share करें ताकि इसी तरह की जानकारी हम Theupdatedbaba.in में आपके लिए लाते रहें। धन्यवाद

मै अपने सभी पाठको का The Updated Baba में स्वागत करता हूं. यह हमारा हिंदी ब्लॉग है आपको हमारे इस ब्लॉग पर Jobs और Latest Information से जुडी जानकारी देखने को मिलेगी। कृपया अपना सहयोग बनाये रखें। धन्यवाद

Leave a Comment